गूगल ने टिक टॉक की नेगेटिव रेटिंग्स को कम किया, इसलिए उठाया यह कदम

हाल ही में एक इंडियन लड़के ने टिक टॉक पर एक एसिड अटैक वाल स्पूफ शेयर किया जा जिसके बाद कई लोगों ने इसकी अलोचना की. इस स्पूफ और इस जैसे कई वीडियो क्लिप टिक टॉक ने डिलीट कर दिया. इस वीडियो को बनाने वाले फैजल सिद्दीकी ने माफी भी मांगी है. बाद में इसमें गूगल ने हस्तक्षेप किया और पाया कि इसका रिव्यू करने वालों ने फर्जी अकाउंट बना रखे थे. फिर भी, इस कदम का सीमित प्रभाव पड़ा है, और आधिकारिक एंड्रॉइड मार्केटप्लेस पर टिक टॉक की रेटिंग दो स्टार से नीचे बनी हुई है. वीडियो में दिखाया गया है कि फैजल सिद्दीकी एक लड़की को धमका रहा है, जो उसे छोड़ने का फैसला कर चुकी हैं.

इसके बाद वह एक लिक्विड लड़की के चेहरे पर फेंकता है. यह पानी था, लेकिन वीडियो के अगले सीन में लड़की का चेहरा ढका हुआ दिखाई देता है, जिसमें कई सारे दाग और चोट लगी है जोकि दर्शाता है कि उसके चेहरे पर तेजाब फेंका गया है.

गूगल ने डिलीट किए 5 मिलियन क्रिटिक्स टिक टॉक

से इस वीडियो के हटने के बााद, गूगल ने अपने अपनी हालिया वन-स्टार रिव्यूज में से 5 मिलियन से अधिक रिव्यूज को हटा दिया, लेकिन कई अन्य अलोचनाओं को वैसे ही रहने दिया है. गूगल के प्रवक्ता ने कहा कि उसने इस वीडियो के क्रिटीक्स पर सुधारात्मक कार्रवाई की थी.

टिक टॉक ने किया अकाउंट सस्पेंड

इस वीडियो कंटेंट पर टिक टॉक ने बयान दिया है. टिक टॉक के प्रवक्ता ने कहा, ‘पॉलिसी के मुताबिक, हम ऐसे कंटेंट की अनुमति नहीं देते जिससे कि दूसरों की सुरक्षा खतरा हो, शारीरिक क्षति का बढ़ावा हो और महिलाओं के खिलाफ हिंसा को सही ठहराया जा रहा हो. इस वीडियो ने हमारे दिशा-निर्देशों का उल्लंघन किया है और हमने इस कंटेंट को हटा दिया है. अकाउंट को संस्पेंड कर दिया है और इस पर कानूनी नजरिए से विचार कर रहे हैं.’